प्रशिक्षण ले रहे (दरोगा) को कोरोना संक्रमित महिला के रिश्तेदार के संपर्क की सूचना पर प्रशासन में हड़कंप मच गया

 

प्रशिक्षण ले रहे (दरोगा) को कोरोना संक्रमित महिला के रिश्तेदार के संपर्क की सूचना पर प्रशासन में हड़कंप मच गया

 

रिपोर्ट-गिरीश त्रिपाठी स्वतंत्र पत्रकार

बांगरमऊ, उन्नाव
अमर शहीद गुलाब सिंह लोधी पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय राजीव पुरम में
प्रशिक्षण ले रहे (दरोगा) को कोरोना संक्रमित महिला के रिश्तेदार के संपर्क की सूचना पर प्रशासन में हड़कंप मच गया और उक्त प्रशिक्षु को आइसोलाइट कराने के सोहरामऊ स्थित सरस्वती मेडिकल कॉलेज भेजा कर आइसोलेट कराया गया है। विद्यालय में शुक्रवार को चिकित्सकों की टीम में पहुंचकर अन्य प्रशिक्षको फिर जांच की तथा आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
बताते चलें कि उक्त शिक्षा महाविद्यालय राजीव पूरम में एक प्रशिक्षु उप निरीक्षक तीन महिला के करो ना हो गया था और उसकी मौत हो गई थी उसके रिश्तेदारों के संपर्क में तस्वीर उपनिरीक्षक की जांच की जा रही है इसी के साथ पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय में हड़कंप की स्थिति है और शुक्रवार को चिकित्सकों की टीम ने उक्त पुलिस प्रशिक्षण विद्यालय पहुंचकर जांच की है और प्रश्न तब तक ही रिकवरी बना कर दो आवाज फीचर रंगरूटों की जांच की
और उन्हें आवश्यक दिशा निर्देश। मामले के बाद पीटीएस स्टॉफ व प्रशिक्षुकों में खलबली है। सूत्रों के अनुसार 700 प्रशिक्षुओं के प्रशिक्षण में सोशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी की जा रही है।

एएसपी। उत्तरी विनोद कुमार पांडेय के अनुसार गौतमबुद्ध नगर पुलिस उपायुक्त मुख्यालय का एक पत्र मिला है। बताया गया है कि शहीद गुलाब सिंह लोधी पुलिस प्रशिक्षण केंद्र काली मिट्टी राजीवपुरम में प्रशिक्षण ले रहे 2019 बैच के एक प्रशिक्षु उपनिरीक्षक की कासगंज निवासी महिला रिश्तेदार कोरोना पॉजिटिव पाई गई है। रिश्तेदार के संपर्क में होने से तत्काल आइसोलेट कराकर जांच कराई जाए। एएसपी ने बताया कि प्रभारी निरीक्षक फतेहपुर चौरासी हरिकेश राय ने प्रशिक्षु उपनिरीक्षक को सोहरामऊ स्थित सरस्वती मेडिकल कॉलेज में आइसोलेट कराया है। सैंपल जांच की रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। सीएमओ कैप्टन डॉ. आशुतोष कुमार ने बताया कि प्रशिक्षु दरोगा का सैंपल जांच को भेजा जा रहा है। पीटीएस सूत्रों के अनुसार लॉकडाउन के दौरान दी जा रही ट्रेनिंग में सोशल डिस्टेंसिंग की भी अनदेखी की जा रही है। ट्रेनिंग मैदान में भी प्रशिक्षु सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरूक नहीं हैं। पीटीएस के डीआईजी चंद्रप्रकाश ने बताया कि ट्रेनिंग सेंटर में 700 प्रशिक्षु उपनिरीक्षक ट्रेनिंग ले रहे हैं। जिस प्रशिक्षु उपनिरीक्षक को आइसोलेट कराया गया है वह डेढ़ माह से ट्रेनिंग ले रहा है और वह ट्रेनिंग सेंटर के बाहर नहीं गया। जिला प्रशासन ने उसे आइसोलेट कराया है। सैंपल की रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।
पुलिस ट्रेनिंग सेंटर में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न होने के सवाल पर डीआईजी चंद्रप्रकाश ने बताया कि 25 मार्च को लॉकडाउन की घोषणा होते ही उसी दिन मेडिकल टीम ट्रेनिंग सेंटर पहुंची थी। टीम ने छुट्टी से आए 30-40 प्रशिक्षुकों के अलावा ट्रेनिंग ले रहे अन्य प्रशिक्षुओं का स्वास्थ्य परीक्षण किया था। सभी सामान्य पाए गए थे। एहतियातन, छुट्टी से लौटे प्रशिक्षुओं को 14 दिन के लिए अलग बैरक में रखा गया था। 14 अप्रैल को भी मेडिकल टीम द्वारा फिर स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। सभी प्रशिक्षु मास्क लगा रहे हैं। उन्हें आपसी दूरी बनाए रखने के निर्देश भी दिए गए हैं। एक माह से शारीरिक प्रशिक्षण पर रोक है। प्रशिक्षु उपनिरीक्षक के आइसोलेट होने के बाद से सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर सतर्कता और बढ़ाई गई है

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आरपीएस समाचार के सन्धर्भ क्या कहना चाहते है

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close