चिंता न करें ,अब गांव में ही मिलेगा रोजगारघबराए नहीं, जो लोग रह गए हैं उन्हें भी मिलेगा भरण-पोषण भत्ता केशव प्रसाद मौर्य

 

चिंता न करें ,अब गांव में ही मिलेगा रोजगारघबराए नहीं, जो लोग रह गए हैं उन्हें भी मिलेगा भरण-पोषण भत्ता केशव प्रसाद मौर्य

लखनऊः उत्तर प्रदेश

 

रिपोर्ट -गिरीश त्रिपाठी स्वतंत्र पत्रकार

उत्तर प्रदेश उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य नें कहा है कि लोगों को गांव में ही रोजगार मुहैया कराने के इंतजाम सरकार कर रही है ।मजदूरों को काम दिया जाएगा ।लोगों को स्थानीय स्तर पर काम देने व ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए प्रभावी कदम सरकार द्वारा उठाए जा रहे हैं ।उन्होंने कहा कि जो भी कार्य कराए जाएंगे, उनमें शारीरिक दूरी का हर हाल में पालन कराया जाएगा तथा सरकार द्वारा निर्धारित गाइड लाइन के अनुसार ही कार्य हो सकेगे।
उन्होंने कहा कि किसानों की उपज की खरीद हेतु ,जो क्रय केंद्र खोले गए हैं, उन पर सरकार की पैनी दृष्टि है और किसानों के साथ कोई ज्यादती नहीं होने दी जाएगी। किसानों के गेहूं खरीद कार्यों में भी शारीरिक दूरी बनाए रखने की आवश्यकता पर उन्होंने बल दिया है।
उन्होंने कहा कि विकास के लिए सामग्री के उत्पादन की प्रक्रिया भी प्रारंभ की जाएगी, लेकिन उसमें भी लाक डाउन और शारीरिक दूरी व सरकार की गाइड लाइन का हर हाल में पालन सुनिश्चित किया जाएगा ।उन्होंने कहा कि जो लोग रह गए हैं ,उन्हें भी भरण-पोषण भत्ता उपलब्ध कराया जाएगा।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि हम सब लोग मिलकर कोरोना को हर हाल में हटाएंगे।उप मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग भारत में और खासकर उत्तर प्रदेश में निवेश करना चाहते हैं ,उनका मै स्वागत करता हूं ।कहा कि निवेश से रोजगार सृजन होगा तथा लोगों को दूसरी जगह रोजगार के लिए भटकना नहीं पड़ेगा।
उप मुख्यमंत्री ने कहा है कि गरीबों के लिए जो कम्युनिटी किचन सेंटर चलाए जा रहे हैं, वहां पर स्वच्छता और सोशल डिस्टेंसिग का जरूर ख्याल रखा जाए तथा स्वयंसेवी संस्थाएं, जो कम्युनिटी किचन सेंटर चला रही हैं ,वह भी इसका पालन करें और बगैर जिला प्रशासन के संज्ञान में लाए कम्युनिटी किचन सेंटर नहीं चलाएंगे।

उन्होंने बताया कि लोक निर्माण विभाग / सेतु निगम व राजकीय निर्माण निगम के अधिकारियों व कर्मचारियों के प्रयासों से, जन सहयोग से जो कम्युनिटी किचन सेंटर प्रदेश के सभी जिलों में चलाए जा रहे हैं ,उनमें आज कुल 7466 भोजन सामग्री के पैकेट व 3438 राशन सामग्री के पैकेट वितरित किए गए और आज तक 135515 भोजन सामग्री के पैकेट तथा 65436 राशन सामग्री के पैकेट, रोज कमाने खाने वाले लोगों. गरीबों .श्रमिकों को वितरित किए गए।

श्री मौर्य ने आम लोगों से अपील की है कि वह “आरोग्य सेतु” को ज्यादा से ज्यादा डाउनलोड करें यह बहुत लाभकारी होगा ।

उपमुख्यमंत्री ने बताया कि वर्तमान में वैश्विक महामारी कोविड-19 से संघर्षरत परिस्थिति में देशव्यापी लाक डाउन के चलते सभी निर्माण कार्य रुके हुए हैं ।भारत सरकार द्वारा 20 अप्रैल से संक्रमण को न होने देने के सभी प्रोटोकॉल का पालन करते हुए अत्यंत सीमित एवं नियंत्रित रूप से निर्माण कार्यों को प्रारंभ किए जाने हेतु विस्तृत दिशा निर्देश जारी किए गए हैं ।उन्होंने बताया की इन सभी दिशा निर्देशों का पालन करते हुए निर्माण कार्य किए जाने हेतु लोक निर्माण विभाग द्वारा कार्य योजना तैयार की गई है ।लोक निर्माण विभाग द्वारा अतिसंवेदनशील क्षेत्रों तथा हॉटस्पॉट क्षेत्रों को छोड़कर लगभग 180 कार्य अतिशीघ्र कराए जाने का लक्ष्य रखा गया है। इन कार्यो पर लगभग 3800 श्रमिकों को कार्य करने हेतु लगाया जाएगा तथा उनके कार्य स्थलों पर रहने तथा खाने की संपूर्ण व्यवस्था की जाएगी ।श्रमिकों के स्वास्थ्य का पूर्ण ध्यान रखते हुए कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के सभी उपाय करते हुए कार्य प्रारंभ कराए जाएंगे।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आरपीएस समाचार आपको कैसा लगता है

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close