फतेहपुर चौरासी पुलिस की कार्यवाही ने तेजी पकड़ी खेतों से बरामद की राम देवी की लाश

फतेहपुर चौरासी पुलिस की कार्यवाही ने तेजी पकड़ी खेतों से बरामद की राम देवी की लाश

मृतका की फाइल फोटो

उन्नाव  by एडमिन
पशुओं के लिए घास गई विडो महिला करीब पचास वर्षीय के रहस्यमय हालात में लापता होने की घटना में तीसरे दिन ग्रामीण हुए आक्रोशित। पुलिस पर सुस्ती का आरोप और अति शीघ्र खुलासे की मांग करते हुए बुधवार को उन्नाव-हरदोई मार्ग पर जाम लगाया था जाम।

घंटों बाद भी न जाम हटने पर पुलिस ने लाठी चार्ज कर भीड़ को तितर-बितर किया। आक्रोशित भीड़ ने पुलिस पर पथराव किया तो पुलिस को कदम खींचने पड़े। पथराव में दो पुलिस वाहनों के शीशे टूटे और तीन महिला पुलिस कर्मियों को हल्की चोटें भी आईं। करीब तीन घंटे बाद मामला शांत हुआ। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि फतेहपुर चौरासी पुलिस ने महिला का शव बरामद कर लिया है।
फतेहपुर चौरासी थानाक्षेत्र के दौलतपुर गांव निवासी रामदेवी (50) सोमवार को दोपहर करीब तीन बजे चारा लेने खेत गई थी। देर शाम तक वापस न लौटने पर बेटे अंकुल विश्वकर्मा ने मां की तलाश शुरू की। पता नहीं चलने पर थाने में तहरीर देकर मां की गुमशुदगी दर्ज कराई थी।

मंगलवार को अंकुल ने फतेहपुर चौरासी में तहरीर देकर मां के अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराने की मांग की थी। अंकुल ने तहरीर देकर बताया कि घटना स्थल पर टूटी हुई चूड़ियां मिली थी गांव में ही रहने वाले फूल सिंह ने मां के घास काटते समय इसी गांव का मदन पुत्र बलीराम को उसकी मां रामदेवी से बात करते हुए देखा था। अंकुल ने मदन व उसके बेटे महिपाल पर मां रामदेवी के अपहरण का आरोप लगाया था

पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर दोनों आरोपियों को थाने ले गई। बुधवार दोपहर तक घटना का खुलासा न होने पर रामदेवी के परिजनों व ग्रामीणों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए एक घंटे में घटना का खुलासा करने की मांग करते हुए दोपहर एक बजे उन्नाव-हरदोई मार्ग पर हफीजाबाद चौराहा पर जाम लगा दिया। सूचना पर क्षेत्राधिकारी गौरव त्रिपाठी, फतेहपुर चौैरासी प्रभारी निरीक्षक हरिकेश राय व बांगरमऊ कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची।
क्षेत्राधिकारी ने जाम लगाए लोगों को समझाने का प्रयास किया लेकिन नहीं माने। घंटों बाद भी जाम न खुलने पर करीब तीन बजे पुलिस लाठी चार्ज कर भीड़ को तितर-बितर किया। पुलिस के बल प्रयोग करने से पीछे हटी भीड़ ने पुलिस पर पथराव कर दिया। इससे पुलिस को भी पीछे हटना पड़ा। पथराव में सफीपुर और फतेहपुर थाने की दो पुलिस जीप के शीशे टूट गए। वहीं, तीन महिला पुलिस कर्मियों को हल्की चोट आई।

इसी दौरान एसडीएम अक्षत वर्मा और एएसपी धवल कुमार जायसवाल भी कई और थानों की फोर्स और पीएसी के साथ पहुंच गए। पुलिस बल बढ़ते देख भीड़ भी धीरे-धीरे वहां से हट गई। इस दौरान करीब तीन घंटे तक उन्नाव-हरदोई मार्ग का आवागमन बाधित रहा। एएसपी धवल कुमार जायसवाल ने बताया कि लापता महिला के बेटे की तहरीर के आधार पर दो लोगों पर अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।

दोनों से पूछताछ की जा रही है। बताया कि लापता महिला की तलाश कर घटना का जल्द से जल्द खुलासा करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जाम लगाने, पुलिस पर पथराव करने वालों को चिह्नित किया जा रहा है। उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। लापता हुई रामदेवी के पति की सात साल पहले बीमारी से मौत हो गई थी। इकलौता बेटा अकुंल विश्वकर्मा कानपुर में रहकर मजदूरी करता है। वह होली के त्योहार में घर आया था। इसी दौरान मां के लापता होने से वह परेशान है।

फतेहपुर चौरासी प्रभारी निरीक्षक हरिकेश राय ने बताया की मदन व उसके बेटे महिपाल
की निसन्देही पर गांव के ही धुन्नी के बाग में एक पेड़ के नीचे कटे सरसों के बोझ के नीचे
मृतका का शव बरामद कर लिया गया है।
19 आंदोलनकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया 15 को गिरफ्तार कर लिया गया है 4 की तलाश की जा रही है
आवश्यक कार्रवाई कर मृतका का शव पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय भेजा जा गया है।

मृतका का शव

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आरपीएस समाचार आपको कैसा लगता है

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close