जिलाधिकारी की अध्यक्षता मे कोविड 19 व आदर्श आचार संहिता के बाद पहली बार आयोजित हुआ तहसील समाधान दिवस

जिलाधिकारी की अध्यक्षता मे कोविड 19 व आदर्श आचार संहिता के बाद पहली बार आयोजित हुआ तहसील समाधान दिवस

लखनऊ जोन की आई जी लक्ष्मी सिंह ने पुलिस व राजस्ब की सयुंक्त समीक्षा बैठक कर अधीनस्थो के कसे पेच और दिये आवश्यक दिशा निर्देश

समाधान दिवस मे 75 फरियादियो ने लगाई न्याय की गुहार जिसमे मात्र 3 का ही हुआ निस्तारण

बीएसए डीएचओ एसी जल निगम व जिला कृषि अधिकारी सहित अनुपस्थित चार अधिकारियो का वेतन काटने के दिये निर्देश

तहसील या थाना दिवसो मे आये शिकायती पत्रो की मौके पर जांच कर समस्या का स्थाई समाधान कर निस्तारित करने के दिये गए निर्देश कागजी खाना पूर्ति नही करने की दी गई चेतावनी

रिपोर्ट- धर्मेंद्र कुमार सिंह

सफीपुर उन्नाव

कोविड 19 के कारण करीब 8 माह बाद सुरु हुये तहसील समाधान दिवस की अध्यक्षता जिलाधिकारी रवींद्र कुमार ने करते हुये जनता की समस्याओ को सुना और तमाम फरियादियो की शिकायतो पर अधिकारियो को फटकार लगाते हुये विभागीय कार्यवाही के निर्देश दिये वही एक सप्ताह के भीतर प्रत्येक सधा मे शिकायतो का मौके पर जाकर गुणवात्तापुर्वक स्थाई समस्या का निस्तारण करने के निर्देश दिये । साथ ही अनुपस्थित चार जिला स्तरीय अधिकारियो के वेतन काटने के निर्देश भी दिये उन्होने कहा प्रत्येक दशा मे कार्यालयो मे कोविड 19 के नियमो का पालन शत प्रतिशत किया जाए और जो कार्य कोविड या चुनाव आचार सहिता के कारण पिछड गए है उन्हे एक सप्ताह के भीतर पुरा करे और विकास की गति को बढाये इसमे किसी प्रकार की हीला हवाली या बहाने बाजी क्षम्य नही होगी । तह्सील दिवस के अन्त मे लखनऊ जोन की पुलिस महानिरीक्षक लक्ष्मी सिंह ने भी शिरकत की और आवश्यक दिशा निर्देश दिये साथ ही करीब एक घन्टे तक पुलिस व राजस्व की बिन्दुवार सयुक्त समीक्षा बैठक कर पेंच कसे और दिशा निर्देश दिये । उन्होने कहा कि त्रियस्तरीय पंचायत चुनाब के मद्देनजर शिकायतो को गम्भीरता से ले और कागजी खाना पूर्ति करना बन्द करके शिकायतो का मौके पर स्थाई समाधान करना सुनिश्चित करे । छोटी छोटी घटनाओ को भी गम्भीरता से ले और कानून व्यवस्था बनाये रख्ने के लिये सख्त कार्यवाही करे ।
बताते चले वैश्विक महामारी कोरोना एवं उपचुनावों की अधिसूचना समाप्त होने के बाद तह्सील सभागार मे आयोजित हुए संपूर्ण समाधान दिवस जिलाधिकारी की अध्यक्षता में संपन्न हुआ जिसमे फरियादियो को जिलाधिकारी ने सुना और उनकी समस्याओ का स्थाई समाधान कर्ने के सख्त आदेश दिये इस बीच चकबंदी अधिकारियो को फटकार भी लगाई तथा चकबंदी और राजस्व लेखपाल की संदिग्ध भुमिका से किसान के खेत की पैमाइश गलत होने से नाराज हुये और एसडीएम सहित चकबंदी अधिकारी को मौके पर जाकर समस्या का समाधान कर्ने और दोषी लेखपाल के बिरुद्ध कार्यवाही करने के आदेश दिये वही एक फरियादि ने शिकायत की कि उसकी भूमि की लेखपाल अमलदरामत नही कर रहे है जिसपर फटकार लगाते हुये लेखपाल के खिलाफ कार्यवाही करने और दो दिन के भीतर अमलदरामद करने के आदेश दिये । जिलाधिकारी ने जिला उद्द्यान अधिकारी जिला कृषि अधिकारी जिला वेसिक शिक्षा अधिकारी व जल निगम अधिशाषी अधियंता का अनुपस्थिति होने के कारण वेतन काटने के आदेश दिये । तहसील समाधान दिवस का त्योहार का अवकाश पड़ जाने से प्रचार प्रसार न हो पाने के कारण कोई खासी भीड़ नही दिखी कुल 75 फरियादियो ने ही न्याय की फरियाद लगाई जिसमे सिर्फ तीन मामलो का ही मौके पर निस्तारण किये जा सेक शेष समयावधि के भीतर मौके पर गुणवात्तपर्वक स्थाई समाधान सहित निस्तारण के लिये सम्बंधित विभागाध्यक्षो को निर्देशित कर अग्र्सारित कर दिया गया।

जिलाधिकारी का पारा और त्यौरी चढ़ी रही कर्मचारियो को जमकर फटकार लगाई जिसमे राजस्व व चकबंदी लेखपाल व अधिकारियो द्वारा आर्थिक लाभ लेकर भूमि धरी नंबर की पैमाईश दूसरी जगह कर दी गई है। ग्राम गुरधरी निवासी राजनरायन ने प्रार्थना पत्र देकर बताया कि मेरी संक्रमणीय भूमि है जिसपर पुस्तैनी कब्जा व दखल चला आ रहा है।जिसे क्षेत्रीय लेखपाल व चकबंदी लेखपाल द्वारा अवैधानिक तरीके से प्रार्थी के नंबरों में 778/.098 व 779/.228 पर पट्टा धारकों को काबिज करा दिया गया है।जिसकी शिकायत जिला चकबंदी अधिकारी से भी की गई थी परन्तु न्याय न मिलने से आहत किसान ने संपूर्ण समाधान दिवस में पहुंचकर जिलाधिकारी को शिकायती पत्र दिया । उक्त मामले को तत्काल संज्ञान में लेते हुए जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी व सहायक चकबंदी अधिकारी को मौके पर पहुंच कर मामले को जल्द से जल्द निस्तारण कर अवगत कराये जाने के निर्देश दिए।
मकान की ऊपरी मंजिल पर किए जा रहे रोशन दान के निर्माण कार्य का पड़ोसी ग्रह स्वामियों ने विरोध किया मोहल्ला निवासी अयाज, रफीक, रुबीना व चांद बीबी ने बताया कि मुन्ना फकीर दबंग किस्म का व्यक्ति है मना करने पर गाली गाली गलौज कर मारपीट करने पर अमादा हो जाता है। पूर्व में स्थानीय पुलिस को दिए गए प्रार्थना पत्र पर भी कोई कार्यवाही नहीं हुई।इसी प्रकार रेशमा बेवा बाबू ने मकान दुकान पर अवैध कब्जे की फरियाद लेकर पहुंची, इसी प्रकार सीताराम, सलमा आदि ने शिकायती पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई। तहसील दिवस में सर्वाधिक मामले राजस्व 33 तथा 15 पुलिस विभाग के आए तथा समाज कल्याण 1,विकास 6,विद्युत 1 व अन्य 19 सहित कुल 75 मामले आए जिसमें से केवल राजस्व के 3 ही मामलों का मौके पर निस्तारण किया जा सका। जिलाधिकारी रविंद्र कुमार ने शिकायतों के जल्द निस्तारण के लिए संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आशुतोष कैप्टन ने आवाहन करते हुए सभी विभागाध्यक्षों से कहा कि कोविड संक्रमण की गति अभी धीमी हुई है खतरा पूरी तरह से टला नहीं है। सभी विभागाध्यक्ष अपने अपने अधीनस्थों के साथ सतर्कता बरतें तथा उचित दूरी के साथ मास्क व सेनेटाइजर का प्रयोग करें। इस दौरान प्रमुख रूप से पुलिस अधीक्षक आनन्द कुलकर्णी मुख्य विकास अधिकारी डॉक्टर राजेश प्रजापति, पुलिस नवागत उप जिलाधिकारी सत्यप्रिय सिंह, पुलिस उपाधीक्षक कृपाशंकर व तहसीलदार चंद्रशेखर,अधिशाषी अधिकारी डॉ अनुपम सिंह, पृभारी निरीक्षक हरिकेश राय सहित अन्य विभागीय जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

*लखनऊ जोन की आई जी ने पुलिस व राजस्व की सयुक्त समीक्षा बैठक कर दिये आवश्यक दिशा निर्देश*

सफीपुर उन्नाव । लखनऊ जोन की पुलिस महानिरीक्षक लक्ष्मी सिंह ने तहसील समाधान दिवस के अन्तिम समय पर पहुची और उन्होने सभी अधिकारियो को तह्सील व थाना समाधान दिवसो मे आने वाले फरियादियो की समस्याओ का स्थलीय स्थाई समाधान करने के सख्त आदेश दिये । उनका कह्ना था कि कागजो पर शिकायतो का निस्तारण नही चलेगा फरियादियो का भरोसा तहसील एवं थाना समाधान दिव्सो पर कायम रहे उनकी समस्याओ का गुणवात्तपर्वक स्थाई समाधान किया जाना चाहिए । उन्होने अधीनस्थो के पेच कास्ते हुये कहा कि त्रियस्त्रीय पचायत चुनाव मुहाने पर है जिसे मद्देनजर रखकर कार्यवाही की जानी चाहिए किसी मामले को हल्के से न लिया जाए प्रभावी कार्यवाही की जाये । उनका कहना था कि कागजी खाना पूर्ति निस्तारण मे नही चलेगी स्थाई समस्या का समाधान और निस्तारण करना सुनिश्चित करे । उन्होने कहा कि कोविड 19 के बाद ये पहला तहसील समाधान या थाना दिवस है इसमे जितनी शिकायते आई है इससे अधिक गुणात्मक बढ़ोत्तरी अहले दिव्सो मे होगी इस कारण बार बार एक ही समस्या लेकर फरियादि न आये फर्जी मे जनता को तहसील या थाने न दौडाया जाए एक बार मे ही स्थाई समाधान समस्या का कर देना होगा ताकि जनता का भरोसा इन दिवसो पर बना रहे ।उनका कह्ना था कि अभी तक कोविड 19 व आचार सहित के कारण तहसील दिवस व थाना दिव्सो का आयोजन न होने से शिकायते पोर्टल पर होती थी अब वो शिकायते सीधे यही आयेगी ।पोर्टल पर से भार कम होगा ।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आरपीएस समाचार के सन्धर्भ क्या कहना चाहते है

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close